फ्लू के लिए बनाए जेनेटिक हथियार से हराएंगे कोराना को, वायरस को टुकड़ों में तोड़ने में 90 फीसदी सफलता मिली

स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने ऐसा जीन एडिटिंग टूल विकसित किया है जो इंसान की संक्रमित कोशिकाओं में मौजूद कोरोनावायरस को खत्म कर सकता है। इस टूल का नाम पैकमैन है।

जब इसका इस्तेमाल कोरोना से संक्रमित फेफड़ों की कोशिकाओं पर किया गया तो 90% तकसफलता मिलने का दावा किया गया है। शोधकर्ताओं ने इसे इंफ्लूएंजा के वायरस से लड़ने के लिए विकसित किया था लेकिन अचानक शुरू हुई कोविड-19महामारी के बाद इसका इस्तेमाल कोरोना पर किया गया।

ऐसे काम करता है यह टूल
शोधकर्ताओं के मुताबिक, पैकमैन, एंजाइम Cas13 और RNA से मिलकर बना है, इसका पूरा नाम है प्रोफेलैक्टिक एंटीवायरल क्रिस्पर इन ह्यूमन सेल्स। पैकमैन में मौजूद RNA एंजाइम को आदेश देता है कि कोरोनावायरस के जीनोम सिक्वेंस को तोड़े। ऐसा करने के बाद वायरस इंसान के शरीर में अपनी संख्या नहीं बढ़ा पाता और खत्म हो जाता है।

पहले जानवर पर होगा ट्रायल
शोधकर्ता ने जीन एडिटिंग टूल का पहला ट्रायल कोरोना संक्रमित जानवरों पर करने की तैयारी कर रहे हैं। इस रिसर्च में न्यूयॉर्क यूनिवर्सिटी और स्वीडन के कैरोलिन्स्का इंस्टीट्यूट के शोधकर्ता भी शामिल होंगे।

चुनौतियों भरा था बदलाव
टूल को विकसित करने वाले शोधकर्ता स्टैंले-ची का कहना है कि पिछले साल मैंने इस पर काम करना शुरू किया था और लक्ष्य इंफ्लूएंजा वायरस था। जनवरी में कोरोना के मामले सामने आने के बाद इस टूल का इस्तेमाल नए वायरस पर करने के लिए बदलाव करना पड़ा जो काफी चुनौतियों भरा था।

स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी की लैब में स्टैंले-ची (बाएं) और बर्कले लैंब्स मॉलीक्यूलर फाउंड्री के माइकल कैनोली।

90 फीसदी तक सफलता मिली
शोधकर्ता स्टैंले-ची का कहना है कि जब पैकमैन टूल लिपिटॉयड्स (खास तरह का मॉलीक्यूल) के साथ काम करता है तो बेहतर परिणाम मिलते हैं। रिसर्च के दौरान दोनों को मिलाकर कोरोनावायरस पर ट्रायल किया गया है तो 90 फीसदी तक सफलता मिली। बर्कले लैंब्स मॉलीक्यूलर फाउंड्री ने लिपिटॉयड्स उपलब्ध कराए हैं। जिसने रिसर्च को और बेहतर बनाया है।

This story is auto-aggregated by a computer program and has been created or edited by India Today Live. Publisher:Dainik Bhaskar


Comments

Popular posts from this blog

8 जून से खुलेंगे धार्मिक स्थल,होटल, रेस्टोरेंट को भी खोलने की अनुमति, किन नियमो का करना होगा पालन

शामली में किया 6.86 करोड के विकास कार्यों का शिलान्यास

बडी संख्या में कोरोना पाॅजिटिव केस मिलने से मची खलबली

कोरोना संकर्मितो के मिलने से मस्तगढ, बिरालियान व हसनपुर को सील करने के निर्देश

लायंस क्लब द्वारा कोरोना योद्धाओं का किया गया सम्मान

कोरोना का कहर जारी,बर्तन व्यापारी की पत्नी मिली कोरोना पाॅजिटिव

सरकार देगी 7 प्रतिशत सब्सिडी के तहत लोन,जानिए क्या है योजना।