Breaking

Monday, 1 June 2020

लॉकडाउन पाँच की ऐसे उड़ी धज्जियां, नहीं दिखी जिला प्रशासन की व्यवस्था

  • लोगो ने सोशल डिस्टेंसिंगा की जमकर की अनदेखी।
  • जिला प्रशासन ओर पुलिस व्यवस्था भी रही फेल। 
  • शुगर मिल मे आई तकनीकि खराबी से चैथे दिन भी लगा गन्ने का जाम।

  शामली। लॉकडाउन पांच की नियम व शर्तो को तक पर रखते हुए लोग भारी संख्या में बाजारों में निकाल पड़े इसी के चलते पूरे शहर में चारो ओर जाम ही जाम नजर आया। वहीं इस भीड़ को लॉक डाउन का पालन कराने के लिए जिला प्रशासन ओर पुलिस व्यवस्था कहीं नजर नहीं आई ओर लोगो द्वारा भी सोशल डिस्टेंसिंगा की जमकर अनदेखी की गई।
खतरनाक कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप से बचाने के लिए मोदी सरकार ने देश में लॉकडाउन का ऐलान किया और समय समय पर सरकार द्वारा नई नई गाइड लाइन जारी कर व्यवस्था को पटरी पर लाने का काम किया जा रहा है। लेकिन अब लॉक डाउन पाँच में बाजार खोलने, बसो का संचालन व अन्य व्यवस्थाओं को सुचारू करने के लिए नियम व शर्तो के साथ लॉक डाउन पाँच जारी कर दिया गया है। लेकिन बाजार का हाल देखते हुए हाल बद से बत्तर होते नजर आ रहे है,वहीं इसे देख कर लगता है लोग इतनी भीड़ से अपने घरों में कोरोना वायरस को ना ले जाये। रविवार की साप्ताहिक बंदी के बाद जैसे ही सोमवार को दुकानें खोली गई तो बाजारों में इस कदर भीड़ लग गई और चारो तरफ जाम ही जाम नजर आया और लोग सामान खरीदने के चक्कर में सोशल डिस्टेन्स को भी भूल गए,ओर जमकर खरीदारी करने में जुट गए।बाजारों में ज्यादातर भीड़ कपडा,पंसारी,कॉस्मेटिक की दुकानों पर देखने को मिली। सरकार कितना भी सख्त हो  किन्तु जिला प्रशासन लॉक डाउन का पालन करना में बिलकुल पस्त नजर आ रहा है। ना ही बाजारों में पुलिसकर्मियों की उचित व्यवस्था है,ना ही प्रशासन का कोई हुक्मरान अब सवाल यह उठता है कि क्या योगी सरकार ने प्रशासन को इतनी छूट दे दी के बाजार को राम भरोसे  छोड़ दिया जाए। वहीं दूसरी ओर कुछ लोग भी इस महामारी गंभीरता से नहीं ले रहे लेने का नाम ही नहीं ले रहे हैं।गौरतलब रहे की  बीते दिनों केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में देशव्यापी लॉकडाउन लगाया और देशवासियों से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की अपील की गई। मगर इस बीच बाजारों में अलग-अलग हिस्सों से ऐसी तस्वीरें देखने को मिल रही हैं कि लोग सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाते नजर आ रहे हैं और भीड़ इकट्ठा कर रहे है। शामली में हाल में ही दो कोरोना मरीज मिले है। फिर भी पुलिस प्रशासन के कर्मी बाजारों से नदारत है।ओर लोगों ने खुलकर सोशल डिस्टेन्स की धज्जियां उड़ा दी। तस्वीरें देखने से कहीं से भी नहीं लग रहा है कि यह लॉकडाउन के दौरान की तस्वीर है। लोग ऐसे बाजार में दिख रहे हैं जैसे आम दिनों में खरीदारी करने को उमड़ते हों। तस्वीरों में साफ देखा जा सकता है कि मार्केट में कितनी भीड़ जुटी हुई है। लोग एक-दूसरे के काफी करीब-करीब खड़े हैं। वहीं दूसरी ओर अपर दोआब शुगर मिल मे आई तकनीकि खराबी के चलते लगातार चैथे दिन भी शहर की यातायात व्यवस्था पूर्ण रूप से चरमराई रही। गन्ने से भरी ट्रैक्टर ट्रालियो व बुग्गियो के चलते शहर के प्रत्येक मुख्य मार्ग पर छोटे बडे वाहनो का जाम लगा रहा।शहर से गुजरने वाले राहगीर व यात्री दोपहर बाद तक जाम की समस्या से जुझते रहे, लेकिन कोई भी अधिकारी या जन प्रतिनधि उक्त समस्या का समाधान निकाले जाने को लेकर तत्पर नजर नही आ रहा है।

No comments:

Post a comment