Breaking

Tuesday, 30 June 2020

पेट्रोल डीजल के बढ़ाए गए दामों को वापस लिए जाने की मांग

शामली। राहुल प्रियंका गांधी सेना के पदाधिकारियों ने अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल का मूल्य न्यूनतम स्तर पर होने के बावजूद भी देश में बढ़ाए जा रहे पेट्रोल व डीजल के दामों के विरोध में देश के राष्ट्रपति को संबोधित एक ज्ञापन तहसीलदार शामली को सौंपा। जिसमें उन्होंने पेट्रोल डीजल के  बढ़ाए गए दामों को वापस लिए जाने की मांग की है।
 ज्ञापन सौंपते राहुल प्रियंका गांधी सेना के पदाधिकारी।

मंगलवार को राहुल प्रियंका गांधी सेना के जिला अध्यक्ष योगेश भारद्वाज ने कार्यकर्ताओं को साथ लेकर देश के राष्ट्रपति को संबोधित एक ज्ञापन तहसीलदार शामली को सौंपा। जिसमें उन्होंने कहा कि वैश्विक महामारी के कारण आमजन परेशान है। ऐसे संकट के समय में भारत सरकार द्वारा पिछले 21 दिनों से लगातार पेट्रोल और डीजल के दामों में लगातार वृद्धि की गई है।अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल का मूल्य रिकॉर्ड न्यूनतम स्तर पर है। फिर भी सरकार और तेल कंपनियां तेल के दामों में बेतहाशा वृद्धि कर आमजन की कमर तोड़ने का काम कर रहे हैं। डीजल के दामों में वृद्धि से किसानों पर इसका काफी प्रभाव पड़ा है। क्योंकि फसल बुवाई का समय चल रहा है और डीजल के दामों में वृद्धि से किसानों को आर्थिक एवं मानसिक परेशानियों का सामना भी करना पड़ रहा है।वहीं दूसरी ओर पब्लिक ट्रांसपोर्ट मालवाहक वाहन आदि अतिरिक्त बोझ पड़ने के कारण किसानों एवं आमजन के दैनिक उपयोग की वस्तुएं भी महंगी हो गई है। जिससे सामान्य आदमी को भी महंगाई की मार झेलनी पड़ रही है। उन्होंने देश में बढ़ाए गए पेट्रोल व डीजल के दामों को वापस लिए जाने की मांग की है। इस अवसर पर बाबू खान, शेखरपाल, मुकेश पाल, अशोक जैन आदि मौजूद रहे हैं।

No comments:

Post a comment