Breaking

Tuesday, 9 June 2020

मिड डे मील का पैसा सीधे खातों में जाएगा, जानिए कैसे

लॉक डाउन में मिंलने वाला मिड डे मील का पैसा, सीधे खातों में जाएगा।
 
शामली (विशाल भटनागर )।  कोरोना वायरस की वजह से लॉकडाउन  में बंद चल रहे सरकारी स्कूल अब खोले जाएंगे और बच्चो के अभिभावकों का डाटा एकत्र करके संबंधित कार्यालय में जमा कराया जाएगा, जिससे जल्द ही नई दरों पर मिड डे मील योजना लागू होगी। जिसका सीधा फायदा स्कूल में अध्ययनरत छात्रों को मिलेगा ओर मिड डे मील का पैसा सीधा अभिभावकों के खातों में दिया जाएगा। एमडीएम योजना की राशि भी बढ़ाए जाएगी जिससे छात्रों को पौष्टिक खाना मिल सकेगा।

कोरोना महमरी के चलते देश भर  में लॉक डॉउन की घोसना की गई जिसके चलते सभी सरकारी स्कूल भी बंद किए गए ओर स्कूल में पढ़ने वाली बच्चे सरकार द्वारा मिलने वाली मिड डे मील योजना से भी वंचित रह गए। वहीं अब सरकार इस योजना को नए तरीके से लागू करने जा रही है। वहीं एमडीएम की राशि में बढ़ोतरी कर दी गई है जिससे छात्रों को पौष्टिक खाना मिलेगा। अब वर्ग 1 से 5 तक के बच्चों को  तथा वर्ग 6 से 8 तक के लिए मिड डे मील में बढ़ोतरी भी की गई है।  हालांकि, कोरोना की वैश्विक महामारी के संक्रमण को लेकर हुए लॉकडाउन को कारण स्कूल अभी बंद हैं। लिहाजा एमडीएम की राशि बच्चों के अभिभावकों के खाते में भेजने का सरकार ने आदेश जारी किया है। सरकार के आदेशो के बाद जनपद शामली में भी डीएम जासजीत कौर ने सभी स्कूलों को खोलकर अभिभावकों का डाटा लेकर संबंधित कार्यालय में जमा कराए जाने को कहा था। इस आदेश को लेकर सोमवार से इस पर कार्य शुरू कर दिया गया था जिसके चलते मंगलवार को भी सभी स्कूलों में डाटा तलब करने का कार्य देखने को मिला। अध्यापकों ने अपने अपने स्कूलों में पढ़ने वाले छात्र,छात्राओं को सूचित करने के साथ ही डाटा एकत्र करना शुरू कर दिया है। लगभग लॉक डाउन में 74 -- 75 दिन का मिड डे मील छात्र छात्राओं को देने के साथ बदलाव किया गया है और अब नई दर के अनुसार बच्चों को पौष्टिक खाना मिलेगा 

इस संबंध में खंड शिक्षा अधिकारी राज लक्ष्मी पांडेय ने बताया कि वैश्विक महामारी कोरोना के चलते सभी सरकारी स्कूल बंद हैं।जिसके चलते विभागीय दिशा-निर्देश के बाद इस अवधि के दौरान बच्चों को मिड डे मील की राशि उनके खाते में भेजी जा रही है। मध्याह्न भोजन योजना के तहत सरकार द्वारा राशि में बढ़तोरी किए जाने से बच्चों को खाना में पौष्टिक खाना मिल सकेगा। जारी निर्देश का शत प्रतिशत पालन किया जाएगा। सभी हेडमास्टरों को भी इससे अवगत करा दिया गया है।

No comments:

Post a comment