Breaking

Monday, 6 July 2020

कांवड़ यात्रा को लेकर उत्तर प्रदेश हरियाणा के अधिकारियो की हुई बैठक

  • कवाड़ यात्रा पर प्रतिबन्द के आदेश।
  • बार्डर पर रहेगा पुलिस का कड़ा पहरा।
  • आने जाने वाले वाहनों की होगी सख्ती से चैकिंग।

कैराना(विशाल भटनागर)।कांवड़ यात्रा को लेकर  दोनों प्रदेशो के अधिकारियो की बैठक का आयोजन हुआ। जिसमें दोनों राज्यो के अधिकारियो ने कांवड़ यात्रा को लेकर चर्चा की। सोमवार को कोरोना के दृष्टिगत इस वर्ष स्थगित हुई कांवड़ यात्रा को पूर्णतः प्रतिबंधित रखने तथा इसमें अन्य राज्यों से आने वाले कांवड़ यात्रियों को नियंत्रित रखने के लिए उत्तर प्रदेश व  हरियाणा के  जिलाधिकारियों तथा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों के साथ समन्वय बैठक की गई।बैठक पानीपत रोड़ हरियाणा की सीमा में एक पेट्रोल पम्प पर आयोजित हुई। सभी ने नागरिकों की सुरक्षा को सर्वोपरी बताते हुए यात्रा पर पूर्ण प्रतिबंध पर सहमति जतायी। अधिकारियों से कांवड़ यात्रा में किसी भी प्रकार के समुह या दल हरियाणा की ओर से उत्तर प्रदेश प्रवेश न करने देने पर सुझाव आमंत्रित किये। जिलाधिकारी जसजीत कौर ने कहा कि प्रदेश सरकार के साथ साथ केंद्र सरकार ने इस वर्ष की कांवड़ यात्रा स्थगित है और किसी को भी गंगाजल भरने के लिए हरिद्वार प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में कोई भी रियायत आने वाले को नहीं दी जायेगी। यदि किसी भी व्यक्ति द्वारा उल्लंघन करते पाया जायेगा तो सख्त कार्यवाई अमल में लाई जाएगी। इस के बाद दोनों राज्यो के जिलाधिकारी ने पुलिस को भी कड़ा पहरा रखने के निर्देश जारी किये है। कहा कि किसी भी प्रकार की लापरवाही ना हो,इतना ही नहीं पुलिस यमुना ब्रिज पर दोनों सीमाओं में आने जाने वाले वाहनों की सख्ती के साथ चेकिंग करे। इसके अलावा पानीपत के जिलाधिकारी ने बताया कि यदि कोई भी श्रद्धालु कांवड़ यात्रा और गंगाजल भरने के उद्देश्य से पकड़ा जाता है तो जिला प्रशासन द्वारा उसको अनिवार्य रूप से 14 दिन के लिए संस्थागत कोरंटीन किया जायेगा ओर कार्यवाही भी की जायेगी। बैठक में कहा गया है की  इस बार यात्रा मार्गो में किसी भी प्रकार के राहत शिविर, भण्डारों के आयोजन को प्रतिबंधित किया गया है, किसी भी सामाजिक संस्था द्वारा इस प्रकार के आयोजन नहीं किये जायेंगे। उन्होंने कहा कि कोरोना दिन प्रति दिन बढ़ोतरी कर रहा है,लोग संक्रमित हो रहे है,इसी को लेकर सरकार पूरी तरह से सख्त है। बैठक में शामली के पुलिस अधीक्षक विनीत जायसवाल,कैराना एसडीएम उद्धव त्रिपाठी,सीओ कैराना प्रदीप सिंह मौजूद रहे। इसके अलावा हरियाणा राज्य से जिलाधिकारी धर्मेंद्र सिंह,पुलिस अधीक्षक मनीषा चौधरी,एसडीएम संभालका साहिल गुप्ता सहित अन्य अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे।

No comments:

Post a comment