Breaking

Tuesday, 21 July 2020

लगातार बारिश से जहां मौसम सुहावना हो गया वहीं सड़कों पर जलभराव ने क्षेत्र में विकास कार्यो की पोल खोली


  • लगातार बारिश से जहां मौसम सुहावना हो गया वहीं।
  • सड़कों पर जलभराव ने विकास कार्यो की पोल खोली।
  • झामा झम बारिश से मौसम सुहाना लोगो को मिली गर्मी से राहत।
  • दिनभर मूशलाधार बारिश से सड़के हुई जल मगन।
  • जलभराव ने नगर पालिका के विकास कार्यो की पोल खुली।

सड़क पर भरे बारिश के पानी से गुजरने को मजबूर लोग

शामली। मंगलवार सवेरे से ही जारी मूशलाधार बारिश से शहर में जलभराव की स्थिति पैदा हो गई। रूक रूक जारी लगातार बारिश से जहां मौसम सुहावना हो गया वही लोगों को गर्मी से भी निजात मिल सकी। लेकिन लगातार दिनभर मूशलाधार बारिश होने से शहर की सडकों पर हुए जलभराव ने नगर पालिका के विकास कार्यो की पोल खोलकर रख दी। शहर के विभिन्न गली मौहल्लों में जलभराव होने से लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पडा। शहर के कई मुख्य बाजारों में स्थित विकट रही। दुकानों में पानी भरने से दुकानदारों को विकट समस्या का सामना करना पडा। लोगों ने नगर पालिका पर समय रहते नालों की साफ सफाई न कराये जाने का आरोप लगाते हुए अपना विरोध भी प्रकट किया है।
सावन माह शुरू होने के बाद मंगलवार को जिले में पहली बार दिनभर मूशलाधार बारिश हुई। सवेरे जब लोग उठे तो रिमझिम बारिश हो रही थी, लेकिन धीरे धीरे बारिश मूशलाधार शुरू हो गई। रूक रूक जारी मूशलाधार बारिश होने से नगर पालिका के विकास कार्यो की पोल खुल गई। शहर के नाले तथा नालियों में कूडा करकट भरने से पानी की निकासी नही हो सकी और शहर की सडकों पर जलभराव हो गया। जिससे शहर के कलंदरशाह, पंसारियान, गऊशाला रोड, रामसागर, माजरा रोड, भिक्की मोड, नेहरू मार्किट, मिल रोड, वीवी इंटर कालेज रोड, कबाडी बाजार, रेलपार, सहित कई स्थानों पर जलभराव होने से लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पडा। शहर के नेहरू मार्किट व कबाडी बाजारों में तो जलभराव होने से हालात बद से बदतर नजर आये। 
नगर के मुख्य मार्ग पर दुकानों में भरा पानी।
दुकानों में पानी भरने से दुकानदारों का सामान पानी में भीग गया और काफी परेशानियों का सामना करना पडा। इसके अलावा कलंदरशाह व पंसारियान में हुए जलभराव के कारण लोगों के घरों में पानी भर गया और दिनभर लोग बाल्टियों से पानी निकालते रहे। लोगों का कहना था कि पिछले कई दिनों से रिमझिम बारिश हो रही है, लेकिन उसके बावजूद नगर पालिका द्वारा नालों की साफ सफाई नही कराई गई और नही निर्माणाधीन नालों से पानी निकासी का कोई साधन किया गया। यही कारण रहा कि मंगलवार को लोगों के घरों तक में पानी भर गया। यदि समय रहते नालों की साफ सफाई कराई जाती तो शहर में होने वाली जलभराव की समस्या से लोगों को दोचार न होना पडता। मौसम की पहली मूशलाधार बारिश ने आसपास देहात क्षेत्रों में भी जलभराव की स्थिति बनी रही। कैराना, कांधला, थानाभवन, गढीपुख्ता, बाबरी, झिंझाना सहित आसपास के गांवों में लोगों के घरों तक में पानी भर गया।
नगर के मुख्य बाजार में भरा पानी।

No comments:

Post a comment