Breaking

Sunday, 12 July 2020

विकास दुबे के आखिरी 12 घंटे, एनकाउंटर से पहले तक विकास दुबे को जेल और बेल के खेल का भरोसा था; राजस्थान के सीएम को बकरा मंडी जैसी राजनीति से ऐतराज


1. विकास दुबे के आखिरी 12 घंटे
गांव का गुंडा गैंगस्टर बन जाए और खादी-खाकी उसे हवा दे दे तो वह तीन साल में 10 देशों की यात्राएं भी कर सकता है। ...तो खबर ये कि बिकरू गांव के गैंगस्टर विकास दुबे की पहुंच बैंकॉक और दुबई तक थी। उसने वहां भी करोड़ रुपए का इन्वेस्टमेंट कर रखा था। ...और ये सिर्फ अटकलें नहीं हैं, बल्कि इन्फोर्समेंट डायरेक्टोरेट का लखनऊ जोन इसकी जांच में भी जुट गया है। प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत मामला भी दर्ज हो सकता है। शायद 60 से ज्यादा मामलों में अपराधी रहे विकास पर इसी एक्ट के तहत केस लगना बाकी था।

अब कुछ बातें जो हमारे रिपोर्टर्स ने बताईं...
पहली
- जब यूपी पुलिस विकास को कानपुर ले जा रही थी, तो वह रातभर जागता रहा। पूछताछ में उसने कई बड़े नाम कबूले। ऐसे नाम, जिन्हें सुनकर पुलिसवाले एकदूसरे का चेहरा देखने लगे। नाम क्या थे, ये नहीं पता चला। वह बार-बार पुलिस वालों से पूछता रहा कि जेल ही भेजोगे न? फिर बोला- कुछ महीने या सालभर में मुझे बेल मिल जाएगी। मुस्कराते हुए कहता ही रहा कि गुस्से में मुझसे बिकरू में कांड हो गया।

दूसरी- बिकरू गांव में शनिवार को जब मीडिया की टीम गई तब गाव में 150 पुलिसवालों के साथ आरएएफ की बटालियन तैनात मिली। गांव के लोगों के चेहरों पर खौफ है। गांव और आसपास के इलाकों के 500 से ज्यादा लोगों के माेबाइल फोन सर्विलांस पर हैं।


2. राजस्थान की राजनीति में नया एंगल
बहुत हुआ विकास (दुबे), चर्चा अब राजनीति की भी है। बात हो रही है राजस्थान की। यहां सत्ता में कांग्रेस है। कॉम्बिनेशन वैसा ही है, जैसा मध्यप्रदेश में था। यानी एमपी में कमलनाथ और सिंधिया, तो राजस्थान में गहलोत और पायलट। फर्क यही कि सिंधिया सरकार में नहीं थे, जबकि पायलट डिप्टी सीएम हैं। खबर यह है कि राजस्थान में सर्विलांस पर रखे गए दो फोन नंबर के जरिए गहलोत सरकार गिराने की साजिश का खुलासा हुआ है।

माना जा रहा है कि जिस तरह सिंधिया को मध्यप्रदेश में ताकत मिली और कांग्रेस का तख्ता पलटकर उन्होंने शिवराज की सरकार बनवा दी, उससे कुछ लोगों को राजस्थान में प्रेरणा मिल गई। राजस्थान सरकार के स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप के मुताबिक, जो लोग विधायकों को खरीदने की कोशिश में थे, उन्होंने तो नई सरकार भी बना दी थी और इससे वे दो हजार करोड़ रुपए तक कमाने की सोच रहे थे। ...और तो और, वे ये भी कह रहे थे कि सीएम और डिप्टी सीएम झगड़ रहे हैं, इससे सरकार गिराने में आसानी रहेगी।

सर्विलांस पर लिए गए फोन नंबर तो अवैध हथियारों की तस्करी करने वाले लोगों के थे, लेकिन 3 निर्दलीय विधायकों के खिलाफ शिकायत दर्ज हो गई और 2 भाजपा नेता हिरासत में ले लिए गए। शुक्रवार देर रात कांग्रेस के 24 विधायकों ने जॉइंट स्टेटमेंट जारी कर इसे भाजपा की साजिश बताया। वहीं, भाजपा कहने लगी कि नहीं, ये साजिश तो हमारे खिलाफ हुई है।

उधर, सीएम अशोक गहलोत ने शनिवार को प्रेस कॉन्फेंस की और गोवा, मणिपुर, मध्यप्रदेश के उदाहरण गिनाते हुए बोले- बकरा मंडी में जिस तरह से बकरे बिकते हैं, ये उस तरह की राजनीति हो रही है।


Vikas Dubey | News Brief/Dainik Bhaskar Morning Latest [Updates]; Gangster Vikas Dubey Updates, Rajasthan snooping congress government


from Dainik Bhaskar
via-India Today Live
Disclaimer:This story is auto-aggregated by a computer program and has been created or edited by India Today Live. Publisher:Dainik Bhaskar

No comments:

Post a comment