Breaking

Monday, 24 August 2020

किसानों के नलकूपों का विद्युत भार 7.5 से बढाकर 12.5 हॉर्स पावर,भाकियू का का हंगामा।

नलकूपों पर विद्युत भार बढ़ाने को लेकर भाकियू का धरना प्रदर्शन,एसई को बंधक बनाया।

अधीक्षण अभियंता कार्यालय पर धरना प्रदर्शन करते भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ता।

  • अधीक्षण अभियंता कार्यालय पर किया धरना प्रदर्शन।
  • अधीक्षण अभियंता को धरने पर बनाया गया बंधक।
  • किसानों पर प्रति वर्ष 10 से 12 हजार का अतिरिक्त भार बढेने की संभावना।
  • कर्मचारियों को बाहर निकाल कार्यालय में की तालाबंदी।
  • समस्याओं का जल्द समाधान न होने पर उग्र आन्दोलन की चेतावनी।

शामली। किसानों के नलकूपों का विद्युत भार 12.5 हॉर्स पावर कर दिए जाने के विरोध में भारतीय किसान यूनियन के पदाधिकारियों ने अधीक्षण अभियंता कार्यालय पर धरना प्रदर्शन किया। इस दौरान किसानों ने अधीक्षण अभियंता कार्यालय में घुसकर हंगामा कर कर्मचारियों को बाहर निकाल लिया और एसई को धरने पर बंधक बनाकर बैठा लिया। उन्होने बढाई गई विद्युत दरों को वापस न लिए जाने पर उग्र आन्दोलन करने की चेतावनी दी है।

सोमवार को भारतीय किसान यूनियन के पदाधिकारियों ने गांव खेडीकरमू स्थित अधीक्षण अभियंता जेके पाल कार्यालय पर धरना प्रदर्शन किया। धरने की अध्यक्षता जिलाध्यक्ष कपिल खाटियान ने की। इस दौरान वक्ताओं ने कहा कि विद्युत विभाग द्वारा किसानों के नलकूपों का विद्युत भार 7.5 से बढाकर 12.5 हॉर्स पावर कर दिया गया है। जिस कारण प्रत्येक किसान पर प्रत्येक वर्ष 10 हजार से 12 हजार रूपये का अतिरिक्त भार बढेगा। जिसको किसान सहन नही कर सकता। उन्होने कहा कि किसान पहले ही आर्थिक संकट से जूझ रहा है और विद्युत विभाग द्वारा किसान के बिल में कई प्रकार के व्यय जोडे जा रहे है। उन्होने कहा कि सरकार को इस निर्णय को वापस लेना चाहिए। वरना किसान आने वाले दौर में आत्म हत्या करने को मजबूर होगा। उन्होने कहा कि भाकियू का आन्दोलन जारी है और किसी भी सूरत में पीछे नही हटा जायेगा। उन्होने कहा कि विद्युत कर्मचारी भ्रष्टाचार करते हुए गांव में जाकर किसानों को परेशान करते है और अवैध वसूली भी की जाती है। इस दौरान उन्होने अधीक्षण अभियंता कार्यालय में घुसकर कर्मचारियों को बाहर निकाल दिया और कार्यालय में तालाबंदी की। इसके बाद उन्होने अधीक्षण अभियंता जेके पाल को बंधक बनाकर धरने पर बैठा लिया।  चेतावनी दी कि यदि किसानों की समस्याओं का जल्द समाधान नही किया जाता तो वह उग्र आन्दोलन करेगे। धरने पर प्रदेश प्रवक्ता समेत भारी संख्या में भारतीय किसान यूनियन के पदाधिकारी ओर कार्यकर्ता मौजूद रहे।

अगली खबर को पढ़ने के लिए यहां  क्लिक करे 👇

पब्जी गेम को लेकर दो पक्षों में जमकर संघर्ष,एक व्यक्ति सहित दो युवतियां घायल

किसानों की समस्याओं पर बोलते प्रवक्ता

No comments:

Post a comment