Breaking

Saturday, 1 August 2020

सोशल डिस्टेंसिंग के साथ सादगी पूर्ण तरीके से मनाया ईद उल अजहा का पर्व

खुदा से अमन चैन की दुआ करते बच्चे।

  • लॉकडाउन का पालन कराने के लिए सतर्क रहा पुलिस प्रशासन।
  • सोशल डिस्टेंसिंग के साथ चंद लोगों ने ही अदा की मस्जिदों में नमाज।
  • देश में अमन चैन तथा कोरोना वायरस से लोगों को निजात दिलाने की मांगी दुआ

जगह जगह पर रही पुलिस तैनात

शामली। शनिवार को जिलेभर में ईद उल अजहा का पर्व सोशल डिस्टेंसिंग के साथ सादगी पूर्ण तरीके से मनाया गया। कोरोना संक्रमण के कारण चल रहे लॉकडाउन का पालन कराने के लिए पुलिस प्रशासन सतर्क रहा। पुलिस प्रशासन से लोगों से ईदगाह पर नमाज अदा न करने की अपील की गई। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए चंद लोगों ने ही मस्जिदों में नमाज अदा करते हुए देश में अमन चैन कायम करने तथा कोरोना वायरस से लोगों को निजात दिलाए जाने की खुदा से दुआ मांगी।  वहीं अन्य लोगों ने अपने घरों में नमाज अदा कर ईद का पर्व मनाया। लोगों ने गले मिलने के बजाए दूर से ही एक दूसरे को ईद मुबारकबाद दी। ईद की नमाज के बाद मुस्लिमों ने खुदा की रजा के लिए अपने अपने जानवरों की कुर्बानी दी। वहीं ईदगाह अथवा मस्जिदों पर लोग एकत्र ना हो इसके लिए पुलिस प्रशासन ने लगातार नजर बनाए रखी।
कैराना रोड स्थित ईदगाह में लगा रहा ताला

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के चलते जिले में शनिवार को लाॅक डाउन घोषित किया गया था, जिसमें जिला प्रशासन द्वारा दवा व शराब की दुकानों को छोडकर किसी भी दुकान को खोलने की अनुमति नही दी थी। लाॅक डाउन का पालन करते हुए मुस्लिम ने ईद उल अजहा का पर्व बडे ही सादगी के साथ मनाया। जिला प्रशासन द्वारा जारी निर्देशों का पालन करते हुए ईद की नमाज ईदगाह में अदा नही की गई। शहर के कैराना रोड स्थित ईदगाह में ताला लगा हुआ था, जबकि चंद लोगों ने ही मस्जिदों में ईद उल अजहा की नमाज अदा की। इस दौरान उन्होने खुदा से देश में अमन चैन कायम करने तथा कोरोना वायरस से देश को निजात दिलाये जाने की दुआ मांगी। वही अन्य लोगों ने अपने अपने घरों में रहकर की ईद की नमाज अदा की। इस दौरान लोगों ने सोशल डिस्टेसिंग के नियमों का पालन करते हुए दूरी बनाकर ही ईद की मुबारकबाद दी। इसके बाद मुस्लिमों ने सोशल डिस्टेसिंग के नियमों का पालन करते हुए अपने अपने जानवरों की खुदा की रजा के लिए कुर्बानी दी। कोरोना संक्रमण को देखते हुए मुस्लिमों ने साफ साफाई का विशेष ख्याल रखा। जानवरों से बचने वाले अवशेषों को पाॅलोथीन में बंद कर नगर पालिका कर्मचारियों के सुपुर्द कर दिया गया। ईद पर्व के मददेनजर डीएम और एसपी ने हॉटस्पॉट क्षेत्र का दौरा कर व्यवस्था देखी और सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया। कस्बे की ईदगाह सूनी रही और बाजार ओर धर्मस्थलों के पास पुलिस तैनात थी। इसके अलावा कैराना, कांधला, गढीपुख्ता, झिंझाना, थानाभवन, ऊन, चैसाना, जलालाबाद, बाबरी आदि जिले के सभी क्षेत्रों में ईद उल अजहा का पर्व शांतिपूर्ण तरीके से मनाया गया। पर्व को शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराये जाने के लिए पुलिस प्रशासन के आला अधिकारी देर रात्रि तक गश्त करते रहे। इस दौरान पुलिस कर्मियों ने कई स्थानों पर ड्रोल कैमरों से भी निगरानी की।

No comments:

Post a comment