Breaking

Sunday, 13 June 2021

ATS की पूछताछ में हुए बड़े खुलासे,यूपी में ठिकाना बना रहे रोहिंग्या, 11 गिरफ्तार


  • रोहिंग्याओं को पकड़ने के लिए किया विशेष ऑपरेशन लॉन्च।
  • फर्जी दस्तावेजों से बांग्लादेश के रास्ते करते है भारत में प्रवेश।
  • अब तक 11 रोहिंग्याओं को गिरफ्तार किया गया है।

उत्तर प्रदेश एंटी टेररिज्म स्क्वॉड ने राज्य में अवैध रूप से रह रहे रोहिंग्याओं को पकड़ने के लिए विशेष ऑपरेशन लॉन्च किया है. इसके तहत अब तक 11 रोहिंग्याओं को गिरफ्तार किया जा चुका है. इनमें बीते दिनों गाजियाबाद से गिरफ्तार नूर आलम और आमिर हुसैन भी शामिल हैं. इन दोनों को लखनऊ में 5 दिन की रिमांड पर लाया गया था. इस दौरान पूछताछ में कई अहम खुलासे हुए हैं।

एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार।


यूपी के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि ये रोहिंग्या फर्जी दस्तावेजों का उपयोग कर बांग्लादेश के रास्ते भारत में अवैध तरीके से प्रवेश करते हैं और देश के अलग-अलग हिस्सों में बस रहे हैं.गाजियाबाद से गिरफ्तार नूर आलम रोहिंग्या को भारत में अवैध रूप से बसाने वाले गिरोह का मास्टरमाइंड है. यूपी एटीएस ने अब तक नूर आलम समेत 11 रोहिंग्याओं को गिरफ्तार कर जेल भेजा है. ये सभी पड़ोसी मुल्कों में रोहिंग्याओं के साथ हो रही ज्यादती के बारे में मस्जिदों में तकरीर भी देते थे.

एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार के मुताबिक रोहिंग्या इस समय हर विधानसभा क्षेत्र में रह रहे हैं. इनकी पहचान कर पाना इस वजह से मुश्किल होता है क्योंकि इनके पास आधार कार्ड और वोटर कार्ड मौजूद रहते हैं. वह आम जनता में घुल-मिल जाते हैं और चुनाव में वोटिंग भी कर सकते हैं. इसके लिए इनको अच्छी खासी रकम भी दी जाती है. 

No comments:

Post a Comment